जानिए, हम बीमार क्यों होते हैं? | Why are we sick?

admin June 2, 2020 1 Comment

जानिए, हम बीमार क्यों होते हैं? | Why are we sick?

सामन्यतः बीमार( Fever) होने के कारणों को समझने के लिए इन्हें 3 भागों में बांटा जा सकता है और प्रयास करें तो हम इन कारणों को दूर भी कर सकते हैं, जानिए?— (1) भोजन: लगभग पच्चीस प्रतिशत रोग भोजन की गड़बड़ी से संबद्ध रहते हैं— (अ)     जरूरत से ज्यादा भोजन करना। (ब)      स्वादिष्ट चीजों का अधिक मात्रा में सेवन। (स)     तला हुआ भोजन करना। (द)      मिर्च-मसालों का अधिक सेवन। (इ)      सलाद, फल, शाक-भाजी का कम इस्तेमाल। (फ)     चबा-चबाकर भोजन को ठीक से नहीं करना। (ज)     जल पीने की सही जानकारी का अभाव। जब जल नहीं पीना चाहिए, तब हम पीते हैं और जब पीना चाहिए, तब नहीं पीते। (2) व्यायाम: पच्चीस प्रतिशत रोग रोजाना व्यायाम नहीं करने से हो जाते हैं। (अ)     प्रातः सूर्योदय से पूर्व उठकर तेज चलना एक अच्छा व्यायाम है। (ब)      योग के कुछ आसन हमें नियमित करने चाहिए। (स)     व्यायाम एवं योगासन के पश्चात् थोड़ी देर श्वासन […]

Read More

15 Priceless Benefits of Saffron

admin June 2, 2020 No Comments

15 Priceless Benefits of Saffron

Grinding the sandalwood with saffron and making use of it on the brow presents coolness to the head, eyes and mind. By making use of this paste, the thought turns into sharp. If the infant has a trouble of bloodless and cold, then feeding saffron milk in the morning and night will supply comfort to the kid’s bloodless and cold. Saffron can be used to relieve headaches. If headache occurs, mixing sandalwood and saffron and making use of it on the head offers comfort in headache. Greatly helps in relieving fuel and acetidy. It additionally maintains our digestive device healthy. If the iciness of the infant is now not ending, making use of a paste of saffron, nutmeg and cloves on the kid’s nose, forehead, chest and back. Saffron is additionally very really helpful in diarrhea. In case of diarrhea, follow saffron by means of grinding nutmeg, mango kernels, dry […]

Read More

Ayushman Bharat Yojana Scheme #PMJAY #MODIINDIA

admin May 31, 2020 No Comments

Ayushman Bharat Yojana Scheme #PMJAY #MODIINDIA

Considered as one of the biggest healthcare schemes in the world, Ayushman Bharat Yojana goals cover extra than 50 crore Indian citizens. It is designed mainly for the economically weaker sections of the country. The PMJAY was released in September 2018 providing medical health insurance of a maximum sum insured quantity of Rs.5 lakh. The government health insurance scheme covers most of the clinical treatment, prices, medicines, diagnostics and pre-hospitalization fees. Additionally, the scheme gives cashless hospitalization services thru the Ayushman Bharat Yojana e-card which you may use to get healthcare offerings at any of the empanelled hospitals across the country. Beneficiaries of the scheme can avail hospitalisation for necessary treatment by showing their PMJAY e-card. https://www.india.gov.in/spotlight/ayushman-bharat-national-health-protection-mission What is Covered Under Ayushman Bharat Yojana Scheme? With the intention to offer available healthcare to the negative and needy, the Ayushman Bharat Yojana Scheme offers insurance of as much as Rs.5 lakh […]

Read More

HALO HYBRID FRACTIONAL LASER THERAPY | हेलो हाइब्रिड फ्रैक्शनल लेजर थेरेपी (आपको 5 चीजें पता होना चाहिए)

admin December 21, 2018 6 Comments

HALO HYBRID FRACTIONAL LASER THERAPY | हेलो हाइब्रिड फ्रैक्शनल लेजर थेरेपी (आपको 5 चीजें पता होना चाहिए)

हम में से अधिकांश चिकनी, निर्दोष त्वचा के लिए भाग्यशाली नहीं हैं। जीवन हम सभी को मौसम देता है, कुछ दूसरों की तुलना में अधिक ध्यान देने योग्य। जैसे ही हम उम्र देते हैं, हमारी खामियों की सूची अक्सर असमान त्वचा टोन से सूर्य क्षति से, विकृत छिद्रों को मलिनकिरण तक ले जाती है। जब ये दोष दैनिक चिंता बन जाते हैं, तो आपका आत्मविश्वास उतना ही लाभदायक हो सकता है जितना आपकी त्वचा एक प्रतिष्ठित कॉस्मेटिक सर्जन द्वारा इलाज की तलाश करने से चुनती है। स्किटन के हेलो हाइब्रिड फ्रैक्शनल लेजर थेरेपी इन विभिन्न प्रकार के त्वचा के नुकसान को लक्षित करने और उनका इलाज करने के लिए गैर–ablative और ablative लेजर को जोड़ती है। हेलो का एक तरह का दृष्टिकोण गैर–ablative विधि से अधिक प्रभावी है, जो ध्यान देने योग्य परिणामों के लिए आठ उपचार ले सकता है, और यह ablative विधि से कम आक्रामक है जिसके लिए अधिक उपचार के बाद डाउनटाइम […]

Read More